होम | हेल्थ | Acidity Home Remedy: एसिडिटी या पेट की गैस से हैं परेशान तो लें सीताफल, पढ़ें शरीफा खाने के फायदे…

sharifa

Acidity Home Remedy: एसिडिटी या पेट की गैस से हैं परेशान तो लें सीताफल, पढ़ें शरीफा खाने के फायदे...

सीताफल या शरीफा पेट की गैस जैसी समस्याओं को कम करने में मददगार है.

खास बातें

  1. सीताफल आंखों की रौशनी के लिए भी अच्छा है.
  2. सीताफल में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है.
  3. सीताफल में पोटैशियम पाया जाता है.

सीताफल या शरीफा (Sitaphal or custard apple) एक ऐसा फल है जो को सब्जी के तौर पर भी इस्तेमाल किया जाता है. सीताफल एनोना स्क्वामोसा (Annona Squamosa) नाम के पेड़ से मिलने वाला फल है. सीताफल या शरीफा गुणों से भरपूर होता है. कस्टर्ड एप्पल, सीताफल या शरीफा (Custard Apple) खाने में मीठे स्वाद वाला होता है. सीताफल में बहुत से जरूरी मिनरल और विटामिन्स होते हैं, जो पूरे शरीर की अलग-अलग जरूरतों को पूरा करते हैं. सीताफल के पोषक तत्वों की बात करें तो इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, आयरन, पोटेशियम, मैग्नेशियम और कॉपर जैसे अहम पोषक तत्व होते हैं. न्यूटिशनिस्ट रुजुता दिवाकर ने सोशल मीडिया पर सीताफल के गुणों का बखान किया है. चलिए शरीफा या सीताफल के फायदों के बारे में जानते हैं.

Weight Loss Tips: तेजी से वजन कम करने के लिए खाने के बाद भूलकर भी न करें ये 5 काम

सीताफल के फायदे | Sitaphal health benefits

1. अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो सीताफल को सोच समझ कर खाएं. क्योंकि सीताफल या शरीफा वजन बढ़ाने का काम कर सकता है. लेकिन अगर आप वेट गेन करना चाह रहे हैं, तो अपने आहार में सीताफल को शामिल करें.

2. सीताफल या शरीफा विटामिन बी कॉम्प्लेक्स का अच्छा स्रोत है. जो तनाव को कम करने में मददगार होता है.

3. सीताफल में एंटीऑक्सीडेंट विटामिन सी बहुत ज्यादा मात्रा में होता है. विटामिन सी में शरीर की रोगों से लड़ने वाली शक्ति यानी इम्युन सिस्टम को बढ़ाने की क्षमता होती है तो हर दिन एक बार सीताफल खाइए और भगाइए दूर बीमारियों को.

Weight Loss Tips: तेजी से वजन कम करने के लिए खाने के बाद भूलकर भी न करें ये 5 काम

4. अगर आप बहुत जल्दी थक जाते हैं तो खुद को ऊर्जावान या फुल ऑफ एनर्जी महसूस करने के लिए आपको सीताफल को आहार में शामिल करना चाहिए.

5. शरीफा या सीताफल आंखों की रोशनी के लिए भी अच्छा है. सीताफल में विटामिन सी और रिबोफ्लॉविन होता है, जो आंखों के लिए अच्छा माना जाता है.

How to Prevent Pimples: खान-पान और तनाव से बढ़ सकते हैं मुंहासे, यहां पढ़े मुंहासों के घरेलू उपचार

i706bon

Sitaphal: सीताफल में प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट विटामिन सी बहुत ज्यादा मात्रा में होता है

What is Bipolar disorder: बॉर्डरलाइन बाइपोलर डिसऑर्डर और बाइपोलर डिसऑर्डर में क्‍या है अंतर

सीताफल या शरीफा के और फायदे | Other health benefits of sitaphal

1. शरीफा या सीताफल में मैग्नीशियम होता है. मैग्नीशियम शरीर में पानी के संतुलन को बनाए रखने में मददगार होता है. इसके साथ ही साथ यह जोड़ों के लिए भी अच्छा है, क्योंकि यह जोड़ों में होने वाले अम्ल को हटा देता है.

2. दांतों के लिए भी शरीफा या सीताफल फायदेमंद है. अगर दांतों में दर्द रहता है या मसूड़े कमजोर पड रहे हैं तो आपको अपने आहार में सीताफल को शामिल करना चाहिए.

3. सीताफल में सोडियम और पोटेशियम होते हैं, जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मददगार हैं. तो बीपी के मरीजों के लिए यह एक अच्छा आहार साबित हो सकता है.

नाभि में क्यों लगाते हैं तेल, ये होते हैं 7 फायदे!

दही और योगर्ट वजन घटाने और हड्डियों के लिए हो सकते हैं लाभदायक, जानें दोनों का फर्क और फायदे

q2gbn2ro

सीताफल में सोडियम और पोटेशियम होते हैं, जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मददगार हैं.

कैसे करें सीताफल को आहार में शामिल (How to include sitaphal in your diet?)

रुजुता के अनुसार आप अपने आहार में सीताफल को कई तरीकों से शामिल कर सकते हैं. रुजुता कहते हैं – ”सीताफल का मजा अपने हाथों से लें. इस अपने हाथ में लेकर उंगलियों से तोड़ कर खाएं. यह 21वीं सदी का सुपरफूड है.”

चलिए हम आपको बताते हैं सीताफल को अपने आहार में आप और किस-किस तरह शामिल कर सकते हैं_ शरीफा या सीताफल को आप सीधा काट कर खा सकते हैं. इसके अलावा आप इसे सलाद में भी शामिल कर सकते हैं. आप इसमें नींबू का रस डालकर भी इसे खा सकते हैं.

Cough Home Remedies: लगातार खाँसी आपको परेशान कर रही है? अनानास का जूस दे सकता है जल्द राहत

टिप्पणियां

नोट: आहार में किसी भी तरह का बदलाव अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही करें.

Source:-https://khabar.ndtv.com/news/health/acidity-treatment-sitaphal-custard-apple-weight-loss-health-benefits-of-this-superfruit-2117194

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *